भोलेनाथ चले आओ लिरिक्स – Bholenath Chale Aao Lyrics

भोलेनाथ चले आओ लिरिक्स – Bholenath Chale Aao Lyrics | Bholenath Bhajan | Shiv Bhajan |




भोलेनाथ चले आओ लिरिक्स – Bholenath Chale Aao Lyrics



भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,
आकर दृश्य दिखाओ ||

१. बैल चढ़े शिव शंकर आए,
हर हर बम बम गांवो,
सिंह चढ़े मां गोरा आए,
पुष्पन हार पहराव
मूषक ऊपर आए गजानन,
मोदक भोग लगाओ ||

भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,
आकर दृश्य दिखाओ ||

२. गजानंद अभिषेक कराओ,
केसर तिलक लगाओ,
आक धतूरा भोग लगाओ,
बिल पत्र भी चढ़ाव,
धूप दीप से करो आरती,
बिजीया गहरी गुटावो

भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,
आकर दृश्य दिखाओ ||

३. मस्तक ऊपर शीतल चंद्रमा,
जटा से गंगा बहाए,
कटी में है बागअंबर सुंदर,
नीलकंठ कहलाए,
नंदीश्वर की सजे सवारी,
डम डम डमरू बजाए ||

भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,
आकर दृश्य दिखाओ ||

४. सब देवन में देव बड़े हैं,
भस्मी अंग रमाये ,
भीख मांग भूतल पर लूटे,
विषधर गल लीपटाए,
सूर् नर असुर मनाए सभी,
गुण भोले के गाने ||

भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,
आकर दृश्य दिखाओ ||

६. गिरिजापति कैलाशपति हो,
त्रिभुवन पति कहलाए,
निराकार साकार बनो प्रभु,
दर्श की प्यास बुझाओ,
युग युग से हम बिलख रहे हैं,
अब तो धीर बढ़ाओ ||

भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,
आकर दृश्य दिखाओ ||

७. ऐसे है वरदानी बाबा,
जो मांगू सो देते,
भले बुरे में भेद ना रखते,
शरण में सबको लेते,
भक्तों की विनती सुन कर,
सबकी आशा पुरावो ||

भोलेनाथ चले आओ…..२
शिव शंकर भोले भंडारी,

आकर दृश्य दिखाओ ||

Post a Comment

0 Comments